wet bubbles controls

वेट बबल – इसके रासायनिक और भौतिक उपचार

रसायनिक उपचार:

केसिंग के बाद स्पोरगोन फंगसनाशी की स्प्रे करने से इस बीमारी को रोका जा सकता है। केसिंग मिट्टी को फार्मेलीन से उपचारित करने से भी इस बीमारी को रोकने में भी मदद मिलती है और फार्मेलीन 0.8 प्रतिशत की स्प्रे से भी इस बीमारी को रोका जा सकता है।

भौतिक उपचार:

केसिंग मिट्टी को भाप द्वारा 65 डिगरी सेल्सियस पर 6-8 घंटे तक उपचार करने से इस बीमारी को रोका जा सकता है। मशरूम उत्पादन के समय संक्रमित बैगों को प्लास्टिक से ढकने से इस बीमारी के फैलाव को रोका जा सकता है। संक्रमित मशरूम को निकालने के बाद उस स्थान पर साधारण नमक छिड़क देना चाहिए।

कृषि और पशुपालन के बारे में अधिक जानकारी के लिए अपनी खेती एप्प डाउनलोड करें - एंड्राइड, आईफ़ोन